Breaking News

आईआईटीएम पुणे महाराष्ट्र में सामने आया बड़ा घोटाला CBI ने मारे छापे

IITM  के पूर्व अधिकारियों समेत 7 लोगों के खिलाफ CBI ने  दर्ज किया धोखाधड़ी का केस का  मामला 
 ट्रू कलर एलईडी लगाने को लेकर जिसके चलते  पुणे और मुंबई में कई जगह सीबीआई द्वारा छापेमारी 
भी की गई जिसमे  काफी अहम सबूत मिले हैं,जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी हो सकती है, 
IITM
 image loded by https://www.firstpost.com



आईआईटीएम पुणे महाराष्ट्र में सामने आया बड़ा घोटाला CBI ने मारे छापेकिसके खिलाफ हुआ केस दर्ज:

बात है 12 ट्रू कलर एलईडी लगाने में फर्जीवाड़े को लेकर  CBI ने  पुणे भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान( IITM ) को दो पूर्व अधिकारि और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ आरोप लगाते हुए केस दर्ज करवाया है, 
मामला पुणे आईआईटीएम के साइंटिस्ट गुफरान बेग, विपिन आर माली और वीडियो वाल कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर अनिल चंद्रकांत समेत 7 लोगों के खिलाफ दर्ज किया गया है।

ऐसे अंजाम दी गई धोखाधड़ी

 साल 2011-2018 के बीच शहर में 12 ट्रू कलर एलईडी लगाने का प्रस्ताव था जब आईआईटीएम के साइंटिस्ट गुफरान बेग पुणे में इस प्रोजेक्‍ट के निदेशक थे, इस LED के लिए टेंडर निकाले थे, इसमें  कंपनियों ने टेंडर भी भरे थे मगर दूसरी कंपनियोके टेंडर को रिजेक्ट करते हुए सिर्फ अनिल चंद्रकांत की कंपनी का टेंडर पास करा गया 
फरवरी 2012 में अनिल चंद्रकांत को जो टेंडर भरा था उसके बदले में घटिया क्वालिटी के चाइनीज कंपनी के बल्ब और डिस्पले बोर्ड सप्लाई किए ग

आईआईटीएम पुणे महाराष्ट्र में सामने आया बड़ा घोटाला CBI  ने मारे छापे फर्जीवाड़ा बहोत बड़ा था 

एक  एलईडी बोर्ड की कीमत उस समय 39,585 रुपये तय थी, प्रत्येक बोर्ड में 8 यूनिट एलईडी लगनी थी यानी कीमत हुई 3,16,680 रुपए, टेंडर के मुताबिक, 12 एलईडी डिस्‍प्‍ले बोर्ड लगाये जाने थे जो 12 डिस्‍प्‍ले बोर्ड 38 लाख के लिए अनिल चंद्रकांत दुवारा, मगर घोटाला यानी फर्जीवाड़ा यहाँ हुआ आईआईटीएम के ऑफिसर्स के साथ जुगाड़ करते हुए डिस्‍प्‍ले 8 गुना ज्यादा कीमत 2,98,20,000 पर दिए,
और इस बात को लेकर 2019 में केस भी दर्ज किया गया था,दूसरी बात यह भी थी की टेंडर मार्च 2012 तक पूरा करना था मगर मगर ज्यादा देरी हुई जसमे होने पर 10 प्रतिशत जुर्माना  वसूल करना था वह नहीं करा,
इस मामले में पुणे और मुंबई में कई जगह छापेमारी भी की गई है। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, उनके हाथ काफी अहम सबूत मिल चुके हैं और जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी हो सकती है।
ऐसे  लोगो पर जल्द  कार्यवाही होनी चाहिए  और सजा भी ....... जय हिन्द जय भारत 

कोई टिप्पणी नहीं

आपको किसी बात की आशंका है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे