Breaking News

अशोक गेहलोत-Congress के झुठ का पर्दा फास- BJP करेंगी मानहानि का केस ?

अशोक गेहलोत के झुठ का पर्दा फास,उनके ही दो विधायक जो सचिन पायलट गुट के है उनके ऊपर यह कहते हुए अशोक गेहलोत ने आरोप लगाया था की यह दोनों लोग बीजेपी के लोगो के साथ में मिलकर खरीदफरोख्त करते हुए सरकार को गिराने की कोशिश कर रहे है, और बीजेपी इनको कांग्रेस के MLA को खरीद ने के लिए एक MLA  को १५ से लेकर २५ करोड़ रुपये की ऑफर दे रहे है,


अशोक गेहलोत-Congress के झुठ का पर्दा फास-BJP करेंगी मानहानि का केस ?

अशोक गेहलोत  अपनी ही पार्टी के दो MLA और बीजेपी पर दूसरे कोंग्रेसी MLA को खरीद कर राजस्थान  कांग्रेस सरकार को ध्वस्त करने का आरोप लगते हुए  एसओजी(SOG) को जांच सौंपी थी और SOG की और से जांच की कार्यवाही भी शुरू हो चुकी थी,
पिछले एक महीने से अशोक गेहलोत और उनके कुछ सदस्य चीख चीख कर कह रहे थे की बीजेपी की और से हॉर्स ट्रेडिंग की जा रही है,
इसी बात को लेकर ३ FIR करी गयी थी, आज अचानक राजस्थान एसओजी कोर्ट में से यह कहते हुए FIR  बंद करने कहते है की उन पर कोई केस नहीं बन रहा,

 यह एसओजी (SOG) है की कोई प्यून ? 

आप की FIR की वजह से दो MLA  और विपक्ष की मिडिया में  इज्जत की धज्जिया उड़ रही थी  पिछले महीने से, किसीने बाकी नहीं रख्खा यह लिखने और दिखाने में की यह लोग पैसे खाकर दलबदल कर रहे है,
 और आज आप कह रहे है की केस नहीं बन रहा ?  यानि किसी को बेकसूर को चौराहे पर नंगा करो फिर कहो की उसकी गलती नहीं थी, 
बेशर्मी तब होती है की इसके लिए अशोक गेहलोत ने या  किसी कोंग्रेसी ने अभी तक माफ़ी भी नहीं मांगी,

अब इस बदनामी की भरपाई कौन करेंगा ?

अशोक गेहलोत ने तो गजेंद्र शेखावत,अमित शाह ,नरेन्द्र मोदी किसके लिए क्या क्या नहीं बोला,सचिन पायलट के लिए कितने घटिया शब्दप्रयोग करे,कपिल सिब्बल ,अभिषेक मनुसंगवी,रणदीप सुरजेवाला नेभी खूब कोसा बीजेपी को,
वह दोनों MLA को और बीजेपी  को अशोक गेहलोत और कांग्रेस के बड़े नेता जिन्होंने खरीद फरोख्त का आरोप 
लगाया उनपर मानहानि का दावा ठोंक देना चाहिए,

वजह क्या थी हंगामा खड़ा करने की ? 

यह सिद्ध होता है की उन्होंने ही यह पूरी नौटंकी सचिन पाइलट को कांग्रेस से निकालने के लिए खड़ी करि थी,
जब अशोक गेहलोत को मुख्यमंत्री बनाये गए तब सचिन पाइलट नाराज  हुए थे,तभी उनके दोस्त कहलाने वाले राहुल गांधी ने उन्हें प्रॉमिस दिया था की अठराह (18) महीने बाद आपको मुख्यमंत्री बना दिया जाएगा और वह वक्त नजदीक आ चूका है,तो सचिन पाइलट को बदनाम करके पार्टी के बहार का रास्ता दिखादे,पुलिस और एसओजी तो उनकी जेब में थी तो कुछ भी कर सकते थे.

अपने चक्रव्यूह में फंस गए गेहलोत 

मगर अपनी जाल में तब फंस गए अशोक गेहलोत जब कांग्रेस के ही भवरलाल शर्मा जिन पर अशोक गेहलोत ने पैसे लेनदेन और पार्टी तोड़ने का आरोप लगाया और ऑडियो टेप भी प्रकाशित कराई गयी,उन पर एफआरआई भी दर्ज करवाई,और जब पुलिस उनका वौइस् सेम्पल लेने गई तो भंवरलाल ने मना कर दिया उन्होंने हाईकोर्ट में याचिका दर्ज करते हुए मामले की जांच  National investigation agency (NIA ) से करवाने की मांग की गई थी,जिस पर अब हाइकोर्ट में बहस शुरू होने वाली थी, 
अब यहाँ अशोक गेहलोत को लगा की हाइकोर्ट ने अगर एनआईए को जांच सौंप दी तो उनका जुठ उजागर हो जाएगा,जादूगर का जादू पकड़ा जाएगा,और तो और एक बार एनआईए ने राज्य में कदम रख दिए तो खुदके सारे  कच्चे चिठ्ठे खुल जाएंगे, यहाँ तक की फोन टेप मामला भी खुल सकता है और अशोक गेहलोत को जेल तक जाना पड़ता, और तो और खुद  के भाई और बेटे पर भ्रस्टाचार के आरोप लगे है वह भी एनआईए के पकड़ में आ सकते है, इसीलिए  खुद को जादूगर  जादूगर की हवा निकल गई और उन्हें लगा की कैसे भी करके वह मामले को अब नहीं उछलना है, ऐसे भी 14 तारीख मिली है तो अब यह एलिगेशन लगाने  जरुरत नहीं,तो  SOG से कहकर FIR वापस करवालो, और SOG अपनी FIR वापस लेते है,

 अब क्या हो सकता है ?

 अब १४ तारीख तक का समय मिला है उसमे करोड़ो रुपये फेंक कर भी बीजेपी के कुछ MLA  को एक दिन के लिए सिर्फ एक दिन के लिए भी ५० -५० करोड़  देकर तोड़ो और बहुमत हांसिल कर लो, एक बार बहुमत हांसिल कर लिए तो छह महीने मिल जाते है, और छह महीने बहुत होते है सरकार को बचाने के लिए, 
अशोक गेहलोत कितने भी पैसे फेंक कर बीजेपी के MLA एक दिन के लिए अपनी साइड में मतदान करवाने के लिए कोशिश शुरू कर चुके है उसकी भनक बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को लगते ही  बीजेपी ने अपने धरासभ्यो को गुजरात शिफ्ट करना शुरू कर दिया है,
(बीजेपी को अब चौकन्ना रहना चहिये और सभी MLA  को गुजरात पहुंचा देना चाहिए और सभी के फोन बंद करवाने चाहिए )
बीजेपी और सचिन पायलट को अशोक गहलोत का यह झुठ पुरे राजस्थान वासियो तक पहुँचाना चाहिए,और बदनामी का केस करना चाहिए,और अशोक गेहलोत से सरेआम माफ़ी मंगवानी चाहिए,
Sachin Pilot और पुरे जाट समाज को कांग्रेस और अशोक गेहलोत को सबक सीखना चाहिए ?
संवादाता -राजू ऐस पटेल 
NOTE -सत्य बात सभी राजस्थान वासी तक  पहुँचाने के लिए बीजेपी सदस्य कमर कसे ,और इस पोस्ट को कमसे कम 5  लोगो तक अवश्य पहुंचाए,
पोलीटिकस और देश दुनिया  दूसरी महत्वपूर्ण जानकारी आजतक आसानी से पहुँच पाए उसके लिए आप हमारी वेब को सब्स्क्राइब अवश्य करे,धन्यवाद 

कोई टिप्पणी नहीं

आपको किसी बात की आशंका है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे