Breaking News

PM नरेन्द्र मोदी रविवार के दिन करंगे कृषि अवसंरचना कोष तहत 1 लाख करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा का शुभारंभ


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी  रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड  के तहत 1 लाख करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा का शुभारंभ करेंगे जारी करने का कार्यक्रम है, PM- KISAN योजना के तहत 8.5 करोड़ किसानों को पीएम 17,000 करोड़ रुपये की छठी किस्त भी जारी करेंगे, 1 लाख करोड़ रुपये के फंड का लक्ष्य फसल कटाई के बाद के बुनियादी ढांचे और सामुदायिक कृषि परिसंपत्तियों के सृजन को उत्प्रेरित करना है,


एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड' के तहत 1 लाख करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा का शुभारंभ का  उद्देश्य :

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केबिनेट बैठक हुई सभी ने माना की कृषि  यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां अधिक से अधिक रोजगार प्रदान करता है.इसीलिए भारत सरकार ने किसान  को मजबूत करने का निर्णय लिया है,
यह योजना  अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने में महत्वपूर्ण साबित हो सकता है, उसके लिए कृषि और कृषि से जुड़े सभी व्यवसायो को मजबूती प्रदान करनी होगी.
इसीलिए  1 लाख करोड़ रुपए के Agriculture Infrastructure Fund  को मंजूरी दी गई है.

एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड के द्वारा क्या क्या जाएगा 

इसके तहत बैंकों और वित्तीय संस्थानों द्वारा प्राथमिक कृषि ऋण समितियों,किसान मंडलो, स्टार्ट-अप्स और एग्री-टेक उद्यमियों को ऋण के रूप में लगभग 1 लाख करोड़ रुपये प्रदान करा के मदद जाएँगी,
इस फंड के द्वारा फसल कटाई के बाद के बुनियादी ढांचे और सामुदायिक कृषि परिसंपत्तियों कोल्ड स्टोर चेन, वेयरहाउसिंग, साइलो, ग्रेडिंग और पैकेजिंग इकाइयों की स्थापना के लिए ऋण प्रदान कर मदद किया जाएगा.
ई-मार्केटिंग प्लेटफॉर्म जो ई-ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म से जुड़े हैं, इसके अलावा केंद्रीय एवं राज्यों द्वारा प्रायोजित फसल उत्पादन के लिए पीपीपी परियोजनाएं भी इसमें शामिल हैं.

 1 लाख करोड़ रुपए के Agriculture Infrastructure Fund के फायदे 

इस 1 लाख करोड़ का फंड किसानों की उपज के लिए अधिक मूल्य प्राप्त करने में सक्षम बनाएगी,ऐसा इसीलिए की किसान फसल स्टोर करने में सक्षम होंगे और जब तक सही कीमत मिलेंगी तब तक,जिससे किसान की आय में वृद्धि होंगी
यह फंड पीएम मोदी के 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक प्रोत्साहन पैकज का हिस्सा है. जिसे कोरोना वायरस महामारी प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को ठीक  किया जा सके.

योजना के तहत क्रेडिट गारंटी की सुविधा भी मिलेगी


2 करोड़ रुपए तक लोन के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट फॉर माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइजेज (CGTMSE) योजना के तहत क्रेडिट गारंटी कवरेज दिया जाएगा.जिसके लिए सरकार द्वारा शुल्क का भुगतान किया जाएगा.

कृषि मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार,

 प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएम-केएसएएन) योजना 1 दिसंबर, 2018 को शुरू की गई और 9.9 करोड़ से अधिक किसानों को 75,000 करोड़ से अधिक का प्रत्यक्ष नकद लाभ प्रदान किया गया,
सरकार के अनुसार, इस योजना ने कोविद -19 महामारी को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन अवधि के दौरान किसानों की सहायता के लिए 22,000 करोड़ रुपये के हस्तांतरण की सुविधा दी है,

योजना  करने के लिए 

कई ऋण संस्थानों के साथ साझेदारी करते हुए वित्तपोषण सुविधा के तहत 1 लाख करोड़ रुपये मंजूर किए जाएंगे, 12 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSB) में से 11 ने पहले ही DAC और FW के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं, इन परियोजनाओं की व्यवहार्यता बढ़ाने के लिए लाभार्थियों को 2 करोड़ रुपये तक का 3% ब्याज उप-ऋण और क्रेडिट गारंटी प्रदान की जाएगी

खेती और कृषि प्रसंस्करण आधारित गतिविधियों के लिए औपचारिक ऋण की सुविधा से ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के कई अवसर पैदा होने की उम्मीद है. जय हिन्द, जय भारत

कोई टिप्पणी नहीं

आपको किसी बात की आशंका है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे