Breaking News

26 जनवरी को दिल्ही में सबसे ज्यादा आग लगाने वाला योगेंद्र यादव-कांग्रेस संसद

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी के दिन हुई हिंसा पर कॉन्ग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू जिसे किसानो के बिच जाने पर पीटा गया था वह संसद ने अपना बयान दिया और कहा की किसान आंदोलन में फैलती अराजकता के लिए सीधे-सीधे योगेंद्र यादव को जिम्मेदार ठहराया। 
ranvit singh bittu Vs yogendra yadav
 image loaded by https://jsnewstimes.com

कांग्रेस सांसद ने बिट्टू ने केंद्र सरकार से कहा कि यदि आज योगेंद्र यादव को पकड़ लिया जाए तो किसानों से बात करने का रास्ता आसान हो जाएगा।किसान देश के साथ है।

उन्होंने कहा लालकिले पर जो झंडा लहराने वाले हैं ये योगेंद्र यादव और इसकी पार्टी के वो दुश्मन हैं जिनकी बाहर से खालिस्तानी फंडिंग हो रही है।"

सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने संसद में बताया कि 26 जनवरी वाली हिंसा के पीछे योगेंद्र यादव है। उन्होंने कहा ये आदमी 2018 तक इस बिल के समर्थन में था और आज सबसे ज्यादा आग लगाने वाला ये आदमी है।

उन्होंने कहा, देश के झंडे के लिए ऐसा (अपमान करने की बात) सोच सकते है क्या पंजाब वाले।वहाँ बॉर्डर पर हम रोज मरते हैं, रोज जानें देते हैं। इस झंडे के शान के ख़िलाफ कोई सपने में भी सोच सकता है क्या। हम सोते भी रात में इस झंडे के सपने के साथ हैं और उठते भी हैं तो इसको सलाम करते हैं। 

 कॉन्ग्रेस सांसद रवनीत सिंह ने इससे पहले जब सिंघु बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन में पहुँचे थे तो उनसे धक्का-मुक्की की गई थी। तब उन्होंने योगेंद्र यादव और अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा था। बिट्टू यह भी आरोप लगा चुके हैं कि किसानों के आंदोलन के पीछे खालिस्तान समर्थकों का भी हाथ है।

टिप्पणी : सवाल यह है की क्या अब भी राहुल गाँधी एन्ड कम्पनी एवं विपक्ष की आँखे खुलेंगी  या अपप्रचार करते रहेंगे और षड़यंत्रकारियों को साथ देते रहेंगे ?





कोई टिप्पणी नहीं

आपको किसी बात की आशंका है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे