Breaking News

कंगना रनौत ने सुप्रीम कोर्ट से कहा उनको शिवसेना से जान का खतरा- मुंबई से सारे केस शिमला ट्रांसफर करने की गुजारिश

दोनों बहनो ने कहा, महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार हमें प्रताड़ित कर रही है हमें उनसे हमारी जान का खतरा है । साथ ही संजय राउत द्वारा कंगना रनौत को हरामखोर लड़की कहें जाने वाले बयान का भी जिक्र करा गया है।

kangna ranaut -rangoli chandel
 image loaded by https://www.livemint.com

कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल ने सुप्रीम कोर्ट से जान की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए कंगना ने अपने खिलाफ चल रहे मामले को हिमाचल प्रदेश ट्रांसफर करने का अनुरोध करते हुए कहा है कि महाराष्ट्र में उन्हें शिवसेना से जान का खतरा है।

इनमें गीतकार जावेद अख्तर द्वारा कंगना रनौत के खिलाफ दायर किया गया आपराधिक मानहानि का मामला भी शामिल है। कंगना रनौत और उनकी बहन ने कहा कि ये सारे मामले बनावटी हैं और दुर्भावनापूर्ण उद्देश्य से दायर किए गए हैं। उन्होंने कहा कि उनकी सार्वजनिक छवि को नुकसान पहुँचाने और उन्हें प्रताड़ित करने के लिए ये सब किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उन्हें देश की न्याय-व्यवस्था पर भरोसा है, लेकिन मुंबई में जान-माल का खतरा है।

अपनी याचिका में दोनों ने कहा, “इस पर ध्यान देना ज़रूरी है कि महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार हमें प्रताड़ित कर रही है।” साथ ही संजय राउत द्वारा कंगना रनौत को ‘हरामखोर लड़की’ कहें जाने वाले बयान का भी जिक्र किया गया है। कंगना रनौत के पाली हिल बँगले को लेकर भी BMC ने केस दायर किया है। कुल 4 ऐसे मामले हैं, जिन्हें शिमला ट्रांसफर करने का अनुरोध किया गया है। इनमें आपराधिक मामले भी हैं।

इनमें से एक जावेद अख्तर की शिकायत के बाद दर्ज किया गया। अख्तर ने कंगना पर अर्णब गोस्वामी के साथ इंटरव्यू में उन पर झूठी टिप्पणी करने के आरोप लगाए थे। कोरोना काल में डॉक्टरों पर हमले को लेकर रंगोली चंदेल द्वारा की गई टिप्पणी को लेकर अली आसिफ खान देशमुख ने मामला दर्ज कराया था। चंदेल ने लिखा था कि एक जमाती कोरोना से मर गया और परिवार का चेकअप करने गए डॉक्टरों पर हमला हुआ।

उन्होंने सेक्युलर मीडिया पर सवाल खड़े किए थे। तीसरा मामला भी विभिन्न समूहों के बीच वैमनस्य फैलाने को लेकर जुड़ा है। महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ ट्वीट को लेकर मुनव्वर अली ने भी FIR दर्ज कराई थी, जो चौथा मामला है। जावेद अख्तर वाले मामले में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के ख़िलाफ़ सोमवार मार्च 1, 2021 को जमानती वारंट भी जारी हुआ था। अब इस मामले पर अगली सुनवाई 26 मार्च को होगी।







कोई टिप्पणी नहीं

आपको किसी बात की आशंका है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे