Breaking News

Twitter की हेकड़ी गुल,कहा: 3 महीने का समय दीजिए, हमने महामारी में लोगों को सहारा दिया, अपने कर्मचारियों के लिए चिंतित

Twitter ने भारत सरकार द्वारा लाए गए नए IT नियमों के बारे में कहा कि वो इसके कुछ हिस्से में बदलाव चाहता है, ताकि लोगों के बीच बातचीत या चर्चाएँ खुली व स्वतंत्र रूप से हो सके।
3 महीने का समय मांगा ट्वीटर ने,
साभार https://www.newsnationtv.com

माइक्रोब्लॉगिंग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने Twitter ने दिल्ली पुलिस द्वारा नोटिस दिए जाने के बाद बयान जारी करते हुए कहा है कि भारत में उसके कर्मचारियों को लेकर हुई हालिया घटनाओं और जिन लोगों को वो सेवा देता है उनकी ‘अभिव्यक्ति की आज़ादी’ को खतरा होने के कारण वो चिंतित है। Twitter ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस अपने ‘हथकंडों’ से धमकी दे रही है, जिससे वो चिंतित है।

Twitter ने अपने बयान में दावा किया कि नए IT नियमों के मूल तत्वों का वो पालन कर रहा है और साथ-साथ वैश्विक ‘टर्म्स ऑफ सर्विस’ के हिसाब से भी कार्य कर रहा है। उसने भारत सरकार द्वारा लाए गए नए IT नियमों के बारे में कहा कि वो इसके कुछ हिस्से में बदलाव चाहता है, ताकि लोगों के बीच बातचीत या चर्चाएँ खुली व स्वतंत्र रूप से हो सके। उसने भारत सरकार के साथ अपनी बातचीत को जारी रखने की भी बात कही है।

Twitter ने कहा, “हमें लगता है कि एक सहभागिता वाला मिलाजुला दृष्टिकोण अपनाना महत्वपूर्ण है। हम केंद्रीय ‘इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय’ से निवेदन करते हैं कि वो इस ‘स्टैण्डर्ड ऑपरेशन परोसिड्यूर्स’ के लिए पहले जनता से सार्वजनिक परामर्श ले। साथ ही Twitter को इन नियमों को लागू करने के लिए 3 महीने का समय दिया जाए। हम भारत के लोगों के प्रति गहराई से समर्पित हैं और इस महामारी के समय में हमारी सेवाएँ लोगों के लिए सहारा बनी हैं।”

ट्विटर ने अपने बयान में ये भी कहा कि अपनी सेवाओं को जारी रखने के लिए वो भारत सरकार के नियम-कानूनों का पालन करेगा, लेकिन वो दुनिया भर में पारदर्शिता के साथ-साथ हरेक आवाज़ को मजबूती देने और अभिव्यक्ति की आज़ादी व प्राइवेसी की रक्षा के लिए भी कार्य करता रहेगा। उसने लोगों के हितों के लिए अधिकारियों, उद्योग और सभ्य समाज के लोग साथ आकर अपनी जिम्मेदारी निभाएँ।

ये पूरा मामला उस ‘टूलकिट’ से जुड़ा है, जिसे कॉन्ग्रेस का बताया जा रहा था। Twitter ने संबित पात्रा समेत जिन्होंने भी इस टूलकिट को ट्वीट किया था, उस पर ‘छेड़छाड़ किया हुआ मीडिया’ का ठप्पा लगा दिया। कॉन्ग्रेस के पत्र के बाद उसे ये कार्रवाई की। दिल्ली पुलिस ने 2 कॉन्ग्रेस नेताओं के साथ-साथ दिल्ली और गुरुग्राम स्थित ‘ट्विटर इंडिया’ के दफ्तरों में जाकर नोटिस दिया था। दिल्ली पुलिस ने कहा था कि ‘ट्विटर इंडिया’ के MD की तरफ से जो नोटिस आया है वो अस्पष्ट है।

याद रहे यह वही ट्वीटर के मालिक है जो पिछले हप्ते से कांग्रेस के सहारे कूद रहे थे,उनको लगा  मोदी सरकार घुटना तक देगी, मगर अब उनकी हेकड़ी निकल गयी ,क्यूंकि उनको लगा की यह सरकार उनपर प्रतिबन्ध  सकती है, तो अब तीन महीने का समय मांग रहे है,





कोई टिप्पणी नहीं

आपको किसी बात की आशंका है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे