Breaking News

झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार को गिराने का प्लान किसने बनाया : 2 लाख में कौन खरीदते थे विधायकों को?

झारखंड पुलिस का दावा है कि उसने हेमंत सोरेन की सरकार गिराने की साजिश रच रहे लोगों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से रुपए भी मिले हैं। उन पर सत्ताधारी विधायकों के खरीद-फरोख्त की कोशिश का आरोप लगा है। इसी बहाने सत्ताधारी झारखंड मुक्ति मोर्चा ने भाजपा को घेरना शुरू कर दिया है। 

                                                     तस्वीर साभार नेशनल हेराल्ड 

अभिषेक दुबे (पलामू), अमित सिंह (बोकारो) और निवारण प्रसाद महतो (बोकारो) को होटल ली-लैक से पुलिस ने  गिरफ्तार करने का दावा किया है। आश्चर्य की बात ये है कि अमित सिंह बीएसएल, बोकारो में ठेका मजदूर के रूप में काम कर के अपना गुजरा चलाता है। निवारण प्रसाद महतो (बोकारो) फल के कारोबार से जुड़ा है और दुंदीबाग में उसकी दुकान है।

अभिषेक दुबे ने इंजीनियरिंग किया हुआ है। उसके पिता पलामू के जपला में जनवितरण प्रणाली की दुकान चलाते हैं और दादा सीमेंट फैक्ट्री में काम करते थे। महतो के रिश्तेदार सोनू का कहना है कि उसे गुरुवार (22 जुलाई, 2021) को पुलिस बोकारो से उठा कर ले गई। दुबे की बहन भावना का कहना है कि भाई को किसी ने फोन कॉल कर के होटल में बुलाया था। उसी समय वहाँ छपेमारी भी हो गई।

पुलिस ने होटल का सीसीटीवी फुटेज पेन ड्राइव में ले लिया है। आरोप है कि इनके साथी 3 ट्रॉली बैग छोड़ कर घटनास्थल से भागने में कामयाब हो गए। पुलिस ने दो लाख रुपए और मोबाइल फोन्स जब्त किया है। पुलिस ने दावा किया है कि तीनों आरोपितों ने अपना ‘अपराध’ कबूल कर लिया है। कहा जा रहा है कि स्थानीय विधायकों के साथ इनकी हवाई यात्रा का PNR नंबर मिला है। लेकिन, पुलिस उन विधायकों के नाम नहीं बता रही।

भला अब झारखण्ड पुलिस की इन बातो पर कौन मुर्ख भरोसा करेगा ? क्या देश में सभी राहुल गांधी है ?


कोई टिप्पणी नहीं

आपको किसी बात की आशंका है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे